महाराष्ट्र

आइडियल रिलीफ विंग का तीन दिवसीय डिजास्टर मैनेजमेंट कार्यशाला संपन्न

Advertisements

संवाददाता लियाकत शाह

जमाअत-ए-इस्लामी हिंद महाराष्ट्र की रिलीफ़ टीम आइडियल रिलीफ विंग अपने स्वयंसेवकों के प्रशिक्षण के लिए वार्षिक कार्यशाला आयोजित करती है ताकि आपदा की स्थिति में राहत कार्य के लिए गतिशील और फुरतीले रह सकें। इस प्रकार का एक वर्कशॉप आइडियल रिलीफ विंग महाराष्ट्र ने डिजास्टर मैनेजमेंट डिपार्टमेंट आपदा प्रबंधन प्राधिकरण कलेक्टर ऑफिस कोल्हापुर के सहयोग से IRW के स्वयंसेवकों के लिए मुकाम कन्वाड़ जिला कोल्हापुर में २९ फरवरी से २ मार्च २०२० तक तीन दिवसीय प्रशिक्षण प्रोग्राम का आयोजन किया। कार्यशाला की शुरुआत तज़कीर बिल क़ुरआन से हुई। कार्यशाला के उद्देश्य और कार्यशाला से संबंधित विवरण मजहर फ़ारूक ने प्रस्तुत की। प्रसाद संकपाल जिला आपदा प्रबंधन अधिकारी, कोल्हापुर ने डिजास्टर किसे कहते हैं और उसके कितनी प्रकार हैं इस विषय पर मार्गदर्शन किया। आपदा प्रबंधन और वज़ीर रेस्क्यू फोर्स बचाव दल के प्रशिक्षकों ने वॉलिंटियर्स को विभिन्न प्रकार की गांठें बनाना और घायलों को ले जाने के लिए बैंडेज और स्ट्रेचर बनाना सिखाया, कृतिम शरीर पर प्राथमिक चिकित्सा और सीपीआर का प्रशिक्षण दिया गया। प्रभावित स्थानों और मकानों से घायलों को निकाल कर सुरक्षित स्थान पर पहुंचाने का व्यवहारिक अभ्यास कराया गया। उमर खान राज्य समन्वयक यूथ विंग ने टीम प्रबंधन के लिए वॉलिंटियर्स को टीम बिल्डिंग गतिविधियां करवाईं। बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों में बचाव कार्य करने में रेस्क्यू वर्क के लिए नाव बनाने का अभ्यास कराया गया और कृष्णा नदी में नाव मोटर और पैडल बोट चलाने की और पानी में डूब रहे लोगों को कैसे बचाया जाए और ऐसी दशाओं लोगों को बचाने के लिए मौके पर उपलब्ध सामग्रियों का कैसे इस्तेमाल करें उन सब का प्रशिक्षकों ने व्यवहारिक अभ्यास कराया। भारत में पाए जाने वाले ज़हरीले सांपों के बारे में जानकारी दी गई। लिखित और व्यावहारिक परीक्षा आयोजित की गई और प्रतियोगिताएं करवाई गईं। अंतिम सेशन में डिजास्टर मैनेजमेंट कोल्हापुर और आइडियल रिलीफ विंग के द्वारा भाग लेने वाले सभी को सर्टिफिकेट दिए गए। प्रतियोगिताओं और परीक्षाओं में सफल हुए वालंटियर्स को पुरस्कार दिए गए। कन्वाड़ गांव के सरपंच बाबासाहब आरसगोंडा ने इस कार्यशाला की गतिविधियों की सराहना की। मज़हर फारूक सचिव जन सेवा विभाग ने स्वयंसेवकों से अपेक्षाओं पर प्रकाश डाला। प्रसाद संकपाल साहब ने स्वयंसेवकों का मार्गदर्शन किया। डॉ सलीम ख़ान साहब मुआविन अमिरे हल्क़ा महाराष्ट्र के संबोधन पर वर्कशॉप का समापन हुआ। कार्यशाला में प्रशिक्षक मा. रऊफ पटेल, अल्ताफ मुल्ला और सागर सर ने स्वयंसेवकों को प्रशिक्षण दिया। कार्यशाला के प्रबंधक अशफाक पठान अध्यक्ष एसआईओ कोल्हापुर ने अंजाम दिया। इस शिविर में राज्य के विभिन्न स्थानों से ५१ स्वयंसेवकों ने भाग लिया।

You may also like

महाराष्ट्र

रावण दहन केल्यास भिम आर्मी तो कार्यक्रम उधळून लावणार .जिल्हाध्यक्ष सुरेश वाघमारे यांचा इशारा

रावण दहन केल्यास भिम आर्मी तो कार्यक्रम उधळून लावणार .जिल्हा अध्यक्ष सुरेश वाघमारे यांचा इशारा ...
महाराष्ट्र

आ. पडळकर यांच्या वाढदिवसानिमित्त मेंढपाळाणा मास्क वाटप

लोकनेते, विधानपरिषद सदस्य आ.गोपीचंद पडळकर यांच्या वाढदिवसानिमित्त धनगर साम्राज्य सेनेच्या वतीने मंगळवारी मेंढपाळांना मास्क वाटप ...
महाराष्ट्र

अहमदनगर जिल्हा काँग्रेस कमिटीच्या जिल्हा सेक्रेटरी पदावर प्रा शिवाजी काटे यांची निवड

  निजाम पटेल , अहमदनगर जिल्हा प्रतिनिधी , अहमदनगर जिल्हा काँग्रेस कमिटीच्या कार्यकरणीस प्रांताध्यक्ष नामदार ...